पास होने के बाद माँ को चोदा

नमस्ते दोस्तो,

मेरा नाम योगेश हैं मेरी उम्र 21 साल है में नासिक से हु मेरी हाइट 5.9 फ़ीट हैं मेरा रंग गोरा है यह मेरे पहले सेक्स की कहानी हैं जो मेने अपनी माँ के साथ किया था
में एक सीए इंटर का स्टूडेंट हु और अगर आप जानते होंगे तो सीए का कोर्स बहूत कठिन होता हैं मे दिन में कुल 12-13 घंटे पढ़ता था. मुझे सेक्स करने बहुत इच्छा होती थी कयोंकि मैन इससे पहले कभी सेक्स नही किया था. मेरा पूरा दिन पढाई में जाता था और मेरी कोई भी गर्लफ्रैंड नही थी.
में एक किसान के परिवार से हु मै मेरी माँ और पापा का एकलौता संतान हु. मेरे पापा का एक वाइन शॉप हैं और मेरी माँ घर के काम के साथ खेती संभालती हैं.
मेरे माँ का नाम मोनाली हैं उनकी उम्र 41 साल हैं। उनका रंग सावला हैं उनका फिगर 36-28-36 हैं. उनकी हाइट 6 फ़ीट के आसपास हैं वैसे तो मेरी माँ बहुत सेक्सी लगती है. मेरी माँ और में बिलकुल एक दोस्त की तरह हैं में उनके साथ सब शेयर करता हू
जब जब मुझे सेक्स करने की इच्छा होती थी सिर्फ अपनी माँ के बारे में सोचता था. क्योकि वो मेरे दिलके करीब थी.
कभी मैं उनकी पैंटी को सुंघ के मुठ भी मारता था पर मुझे उनको चोदना था. कभी मुझे यह सब सोचना बहुत गलत लगता था, पर मेरी हवस तेज थी. मुझे उन्हें हकीकत में चोदना था
मैंने नवंबर 2019 मे एग्जाम दिया था और उसका रिजल्ट फरवरी 2020 मै आया. मेने सीए इंटर की एग्जाम पास की मेरा पूरा परिवार बहुत खुश था सबसे ज्यादा मेरी प्यारी माँ खुश थी. पास होने के खुशी में मेरे माँ ने मुझे गले लगाया और मेरे गाल पर किस किया. मेरा लंड खड़ा हो गया. अब तो मेने ठान लिया था कि अपनी माँ को चोदूंगा
उस दिन हमारे घर पर मेरे चाचा आए थे. रात को खाना खाने के बाद में सो गया था. जब में रात को नींद से उठा तो मैने देखा कि मेरी माँ मेरे पास सोयी हैँ. शायद चाचा के साथ पापा हॉल में सोए होंगें और मेरी माँ मेरे पास सोने आयी होगी.
जब मैने मम्मी को देखा तो मैं बहुत उत्तेजित हो गया. उन्होंने नीले रंग की नाइटी पहनी थी. उनका फिगर मुझे बहुत उत्तेजित कर रहा था. वो गहरी निंद मैं थी. तब रात के 1.30 बजे थे. मेरे माँ के पास सोने से मुझ में चोदने की इच्छा हो रही थी और वो बिलकुल मेरे सामने सोयी थी उनकी पीठ मेरे तरफ थी. मेरा 7 इंच का लंड खड़ा हो गया था. मैं पूरी तरह से गरम हो गया था. मुझे कुछ समझ नहीं आ रहा था.
मेरी दिल की धड़कन बहुत तेज हो गई. मैंने सोचा की ऐसा मौके फिर कब मिलेगा. बहुत देर सोचने के बाद मैंने हिम्मत जुटाई और धीरे से मम्मी की नाइटी उपर करने लगा. मम्मी बहुत गहरी नींद में थी. मैंने नाइटी उनकी कमर तक ऊपर की उन्होंने काले रंग की पैंटी पहनी थी. मैं अब मेरा दिल जोर से धडक रहा था.
में मम्मी की गांड की तरफ देख रहा था. अब मेने उनकी पैंटी थोडी उतारी फिर मैंने मेरे लंड को सहलाया और उनकी गांड के ऊपर धीरे रगड़ने लगा और मै तुरंत झड़ गया और सारा वीर्य उनकी पैंटी पर गिराया. फिर मैंने धीरे धीरे से उनके ओठो पर किस किया मुझे बहुत अच्छा लगा. पर दिल मैं डर था कि वो उठ ना जाये. इसलिए मैंने उनकी नाइटी नीछे कर दीं और मै सो गया
मैं जब सुबह उठा तबतक माँ उठ चुकी थी. मुझे यकीन था कि उनको कुछ पता नही होगा. फिर में नहा कर तैयार हो गया. मम्मी बहूत नॉर्मल थी. मैने नाश्ता किया और टिवी देखने चला गया. मेरे पापा चाचा के साथ बाहर चले गये और माँ घर काम मे जुट गई. सुबह के 10 बजे थे. मे टीवी देख रहा था तब मेरी माँ मेरे पास आई उनके हाथ मे झाड़ू था. मुझे लगा हो झाड़ू लगाने आई होगी पर उसका उल्टा हुआ. उनको शायद कल रात के बारे में पता था. पर कैसे?
उस झाड़ू से मेरी माँ मुझे मारने लगी और कल रात के बारे में कहने लगी. मै पूरी तरह से डर गया. मेरी माँ में मेरे गाल पर थप्पड़ मारने लगी. मैं नीछे गिर गया वो रोते हुए बाहर गयी मेरे सिर पर चोट लगी. में भी रोने लगा. मे अपने कमरे मैं गया और अपने आप को कोसने लगा
2 बज चुके थे और उन्हें पता था कि मेरे लंच भी नही किया होगा. फीर वो खाना लेकर आइ उन्होंने अपने हाथोंसे मुझे खाना खिलाना शुरू किया. वो बहुत इमोशनल थी. और मुझे भी पता था कि उन्होने भी खाना नही खाया होगा में भी उन्हें खाना खिलाने लगा. वो मेरे सिर पर लगी चोट को देखकर दुखी थी.
मुझे उस समय लगा कि मेरे पास एक मोमेंट हैँ की मैं अपनी माँ को मना लू. क्योंकि उन्हें बहुत दुख हुआ था जब उन्होंने मुझे मारा था. खाना खाने के बाद उन्होंने मेरे सिर की चोट पर बैंडेज लगाया और मुझे अपनी गोद मे लिया. उनके गोद में मुझे बहुत अच्छा लगा उस वक्त मेरे दिमाग मैं खयाल आया कि मम्मी को मना भी लू और उनको चोदू भी.
मैने हिम्मत से उनसे कहा
” माँ मैने आजतक आपकी सारी बाते मानी हैं. मैने एग्जाम भी पास किया हैं. मुझे चुदाई करनी है. आप बहुत सेक्सी हो. मुझे आपको चोदना है
फिर उन्होंने मुझे थप्पड़ मारते हुए कहा
” अपनी मम्मी के बारे में ऐसा कैसे सोच सकते हो? यह गलत हैं. तुम हमारे एकलौते हो इसलिए कुछ भी मांगोगे. मुझे तुम पर शर्म आ रही हैं ”
फिर मेंने अपनी माँ से सिर्फ एक बात कही
” आपको मेरी कसम हैं ”
मेरी माँ मुझे पापा से भी ज़्यादा प्यार करती है.
” उन्होंने थोडी देर तक सोचकर कहा कि तुम मेरे एकलौते हो में तुमसे बहुत प्यार करती हूं. तुम बड़े हो आगे बढ़ो बस यही मेरी दुआ है. ” पर यह गलत है फिर मैंने उनसे कहा—-
” मैने पहले सेक्स नही किया इसलिए तुझे आपसे उत्तेजना हुई थी. ”
” ” सब बच्चे पास होने के बाद कुछ ना कुछ चीजें मांगते हैं.
मुझे बस आपको प्यार करना हैं. ” ”
” पापा रात 10.30 बजे आएँगे.
बस फिर क्या मम्मी थोडी देर तक बैठि रही उन्होंने कूछ भी नही कहा
मुझे पता है कि मेरी माँ मेरी कसम के खातिर कुछ भी कर सकती हैं. मैं एकलौता होने का फायदा उठा रहा था.
मैने उनसे कहा ”
” क्या मे शुरू करु इस बात को हम किसको नही पता चलने देंगे ”
उन्होंने कहा
” की यह सब वो पापा को बताएगी. ”
मैंने उनसे कहा-
” पापा को पता चला तो वो तुझे बहुत मारेंगे इससे अच्छा की मैं खुद मर जाता हु ”
फिर में हमारे स्टोर रूम में भागते हुए गया
हमारे घर मे खेती में ईस्तेमाल होने वाले बहुत से केमिकल थे. उसमे से एक कि बोतल मैंने उठाई. और उसका ढक्कन खोला इसे देखकर माँ बहुत डर गई मै उनका एकलौता बच्चा हु ईसलिए वो मुझे बहुत संभालती हैं
मैने उनसे कहा कि में मर जाता हूं औऱ रोते उन्होंने हुए कहा
” ठीक है ”
हम मेरे कमरे में आये.
फिर में शुरू हुआ
मै उनके गाल पर किस करने लगा. मेने उनको अपने गोद मे बिठाया और उनके गाल और ओंठोको चुसने लगा.
हमने पूरे 10 मिनीट तक किस किया में एक बार झड़ चुका था. फिर मैंने अपने सारे कपड़े उतारे और माँ के सामने नंगा खड़ा हुआ. में पुरा गरम था. मैंने अपना लंड माँ के मुंह मे दिया. वो थोडी देरतक रुकी और नाराजीसे चूसने लगी. मेरे मुंह से
” आह”उहह”आहह. ” जैसी आवाजे निकल रही थी.
फिर उन्होंने मुझे बेड पर लिटाया और मुझे समझ मे आया कि वो भी अब मेरा साथ देगी और मेरी दोनों पैरों को ऊपर करके मेरे लंड को चूस रही थी. में सातवें आसमान पर था. मुझे बहुत मजा आ रहा था.
फिर वो गांड भी चूसने लगी
मैं पूरे मज़े ले रहा था. और वो अच्छी तरह मेरा लंड चूस रही थी. फिर मेने उनसे कहा कि –
” सारा पानी मत चुसो मुझे चोदना भी हैं ”
फिर वो रुक गयी उन्होंने साड़ी पहनी थी में उसे उतारने लगा. उन्होंने मुझे बाजू में हटाया और ग़ुस्से मे कहा कि में ” तुम्हारी माँ हु मे साड़ी नही उतारूंगी. पर मैने बहुत जिद की फ़िरसे अपनी कसम दी.
फिर क्या उन्होंने खुद अपनी साड़ी उतारी
अब वो सिर्फ ब्रा और पैंटी में थी. मम्मी को ऐसा देखकर में पूरा गरम था और मेरा लंड सख्त हो गया उन्होंने मुझसे ग़ुस्से से कहा.
” मैं तुम्हारा कोइ साथ नही दूंगी तुम्हें जो करना है वह करो ”
फिर मैने रूम के सारे खिड़यो पर परदा डाल दिया और लाईट चालू की. और माँ बेड पर लेट गई. उन्होंने अपना मुंह बेडशीट से ढक लिया. माँ के ऊपर चढ़ गया.
मैंने उनकी ब्रा को खोला और उनके स्तन देखते ही में मदहोश हो गया. मैं उनकी चुचिया दबाना शुरू किया. उनके मुंह से ” आहह ” की आवाज निकली 5 मिनीट बाद मैने उनकी चुचिया चुसना शुरू किया. वो बहुत गरम हो रही थी. मेरा लंड उनके ऊपर बिलकुल सख्त हो गया. मैने 5 मिनीट तक उनके स्तन चूसे और उनको मदहोश किया.

फिर मैंने धिरे धीरे उनके सिर से लेकर उनके पेट तक चूमना शुरु किया. मैं चूमते हुऐ उनके नाभि तक आया. फिर मेने उन्हें पलटकर उनकी पीट को चूमने लगा. और फिर स्तन और बादमे ओंठों को चूमा.
फिर मैने उनकी पेंटी को उतारा मम्मी ने अभी भी अपना मुंह ढका था. अब मेरे सामने मेरे मम्मी की चूत थी बिलकुल गीली. मैने उनकी ब्रा से चुत को पोछा औऱ आंख बंद करकर उसको चाटने लगा. उसमे उंगलियों ड़ालने लगा.

अब मेरी माँ जोरसे सिसकियाँ ले रही थी. वो
” आहहहह ” . उहहह. ससस.
आआआ ” कर रही थी
में समज गया कि वो भी अब मुड में हैं
. उनके चुत से पानी निकल रहा था. में उसको चूस रहा था
उसका स्वाद नमकीन था.
फिर मैंने उनको ओठो पर किस किया.
और मेरा 7 इंच का सख्त लंड उनकी चुत पर रगड़ने लगा.
उन्होंने अपने मुंह पर हाथ रखकर उछल रही थी. और फिर वो झड गयी.
अब में पूरा तैयार था. मेरा अपनी माँ को चोदने का ख्वाब पूरा होने जा रहा था. उन्होंने अपने मुंह से बेडशीट हटाया और मुझे किस करते हुए कहा
” जरा आराम से ”
मैने उनके चुत में अपना लंड डाल दिया और उनको जोर से चोदने लगा. उनके मुंह से.
” आहह आहह उहह
उहह उहह आआ. ”
” आहहह आहहह आहह उहहह ”
उहहह उहहह आआ. ” .
की आवाजें निकल रही थी.
2 मिनट में मेने अपना वीर्य उनकी चुत में ही झाड़ दिया. और उनको चिपकर थोडी देर तक वैसे ही पड़ा रहा.
फिर वो मुझसे बोली.
” अब बस हुआ ”
मेने उनसे कहा.
” बस एकबार प्लिज ”
फिर उनको मेने लंड चूसने को कहा. अब वो मेरा साथ देने को तैयार थी.
अब वो मेरे लंड को प्यार से चूस रही थी.
उन्होंने कहा कि ” लंड चुसने से तुम्हारा शरीर और उत्तेजित होगा और लंड सख्त बनता हैं. ”
मेने जोश में उनको डॉगी की तरह होने को कहा. अब डॉगी की पोजीशन में थी. उन्होंने कहा मेरी चूत और गांड चुसो. मैंने हँसते हुए कहा ठीक हैं. मैने उनकी चुत और गांड पर जीभ पहराना शुरू किया.
वो बहुत जोरसे सिसकियाँ ले रही थी. मेने उनकी गांड के छेद पर पानी डाला और जोरसे गांड चाटने लगा. चुत और गांड को मैंने बारी बारी चाटा
वो
” उहह उहह ”
कर रही थी.
फिर मेने उनकी चूत में लंड डाला और धीरे से चोदने लगा.
2-3 मिनट तक चोदने के बाद.
उनको मेने पीठ के बल लिटाया और उनपे चढ़कर चोदने लगा.
में उनको मिशनरी पोजीशन में चोद रहा रहा.
मेंने अब जोरसे चोदना शुरू किया. और मेरी माँ चिल्लाने लगी
” आहह आहह आहह उहहह
आहह आहह आहहह उहहह ”
मैं अपना पूरा लंड उनकी चूत में डाल रहा था.

5 मिनट बाद मेने उनकी दोनों टांगें ऊपर उठाई और उनकी गांड में लंड डाला. उनकी गांड बहुत टाइट थी.
वो जोरसे चिल्लाई
” निकालो ” आहहहह आहहह ”
मेने उनके मुहपर हाथ रखा और अपनी पूरी ताकत लगाकर गांड चोदने लगा और 2 मिनट में वो झड़ गयी.
फिर मेने फिरसे उनके चुत में लंड डाला और चोदने लगा में मेरी पूरी ताकत लगाकर चोद रहा था.
मुझे बहुत ज्यादा मजा आ रहा था. 10मिनीट बाद मैं झड़ ने वाला था. मैंने उनको अपना लंड मुह में लेने को कहा और उनके मुँह में जोरसे चोदने लगा और मैंने उनके मुह में अपना वीर्य झाड़ दिया.
यह देखकर वो हँसने लगी. फिर उन्होंने मुझे प्यारसे कहा
” मुझे बस अपने लाड़ले को खुश देखना है. ” फ़िरसे मरने की बात मत करना. ” मैन उनसे पूछा आपको कलरातके बारेमे कैसे पता हुआ?
उन्होंने कहा
मैं कल रात सोयी नही थी ”
पर तुम्हारे लिये मै चुप बैठी.
बस यह बात हमारे बीच में रहनी चाहिए.
यह सुनकर मैंने उनको गले लगाया और उनसे माफी मांगी और उन्होंने मुझे ओंठोपर किस किया
फिर वो नहाने गयी. बादमे में भी नहाने गया. फिर पापा रातको घर आए
हम दोने बिलकुल नॉर्मल बर्ताव कररहे थे. हमने रातको खाना खाया और बादमे हम सो गए.
सुबह मैं उठा तो मैने देखा कि माँ टॉइलेट से बाहर निकल रही हैं मै उन्हें फिर टॉइलेट ले लेकर गया. वो पूरी तरह खुल गई थी.
मैंने अपनी पैंट उतारी उन्होंने अपनी नाइटी ऊपर की और फिर क्या मैं उनको चोदने लगा. बस तबसे जब भी तुझे मौका मिलता हैं. में उनको चोदता हुँ. और उन्हेंभी यहसब अच्छा लगने लगा हैं.

More from Hindi Sex Stories

Comments

Published by

Leave a Reply